UGC : यूजीसी ने देशभर के विद्यार्थियों के लिए कही ऐसी बात की उड़ जाएगा आपका होश, काम की है बात

UGC : University Grants Commission यानी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ऐसी संस्था है जो देशभर के विश्वविद्यालयों को कंट्रोल करती है मतलब की नचाती, घुमाती, फिराती है वैसे इसका गलत अर्थ ना निकालिए यह एक बड़ी ही प्रतिष्ठित संस्था है जो देशभर के विश्वविद्यालयों को या यूं कहा जाए तमाम विश्वविद्यालयों को संचालित करने का काम करती है और समय-समय पर यह तमाम जानकारियां भी देती रहती है जिससे देश के करोड़ों करोड़ों विद्यार्थियों का कैरियर खराब ना हो। कैरियर खराब होने की जैसी ही बात आई होगी आपके माथे पर शिकन जरूर आई होगी तो आपको भी हम बता देते हैं कि यूजीसी (UGC) ने ऐसा क्या कह दिया है क्या कर दिया है जो आपके कैरियर यानी पढ़ाई लिखाई वाले जीवन को नष्ट भी कर सकती है और फायदा भी पहुंचा सकती है। आइए आपको बताते हैं क्या है आपके काम बकैती…

UGC ने इन विश्वविद्यालयों को लेकर किया बवंडर घोषणा –

यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन यूजीसी ने वंडर घोषणा किया है और यह बवंडर घोषणा बहुत बड़ा भूचाल लाने वाला है। देशभर के विद्यार्थियों के जीवन में आने वाला है और यह है उनके एकेडमिक प्रवेश को लेकर। यह खबर जो हम आपके साथ साझा कर रहे हैं वह कुल मिलाकर बकैती ही है लेकिन आपके लिए बड़ी काम की है और अगर आपके लिए काम की नहीं है तो आपके सगे संबंधियों भाई बंधुओं के लिए तो जरूर काम की है। असल में यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन यानी यूजीसी ने एक घोषणा बीते कुछ महीने पहले की थी कि 21 विश्वविद्यालय को फेक विश्वविद्यालयों की सूची में शामिल किया गया है और अगर आप यहां प्रवेश लेते हैं तो आपको जो डिग्री मिलेगी वह किसी काम की नहीं होगी यानी अगर वह भीग जाएगी या जल जाएगी तो भी आपको दुख नहीं होना चाहिए। बस थोड़ा सा मजाक था लेकिन जो हम कह रहे हैं वह सही है 21 विश्वविद्यालय यूजीसी द्वारा बताये गए हैं और इनमें प्रवेश लेने पर आपकी डिग्री मान्य नहीं होगी। वैसे यह मामला कोर्ट के चक्कर काट रहा है और कुछ भी बड़ा निर्णय आ सकता है लेकिन अभी फिलहाल तो निर्णय लिया है वही काम में आने वाला है।

यूजीसी ने किया देशभर के विद्यार्थियों को आगाह –

यूजीसी ने यह घोषणा बहुत पहले ही कर दी थी लेकिन क्योंकि यह प्रवेश का समय है और करोड़ो विद्यार्थी इधर-उधर प्रवेश को लेकर भटक रहे हैं तो हम आपको यह खबर इस समय भी दे रहे हैं शायद आपके काम आ जाए। कुल मिलाकर हम आपको नीचे एक लिस्ट दे रहे हैं और यह लिस्ट है यूजीसी द्वारा आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किए गए एक नोटिस में कुछ विश्वविद्यालयों की।

ये रही UGC वाली खास लिस्ट जिसको आपको सही से पढ़ लेना है –

फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची में दिल्ली सबसे तेज दौड़ रहा है और दिल्ली में स्थापित विश्वविद्यालयों में जो नाम है वह हैं – आल इंडिया इंस्टीट्यूट आफ पब्लिक फिजिकल हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी, कमर्शियल यूनिवर्सिटी लिमिटेड, यूनाइटेड नेशन्स यूनिवर्सिटी, वॉकेशनल यूनिवर्सिटी, एडीआर सेन्ट्रिक ज्यूरिडिकल यूनिवर्सिटी, इंडियन इंस्टीट्यूट आफ साइंस एंड इंजीनियरिंग, विश्वकर्मा ओपन यूनिवर्सिटी फार सेल्फ एम्प्लायमेंट इंडिया और आध्यात्मिक विश्वविद्यालय शामिल हैं । उत्तर प्रदेश से भी सूची में कुछ विश्वविद्यालय दर्ज हैं और उनके नाम ये रहे – गांधी हिन्दी विद्यापीठ प्रयाग , नेशनल यूनिवर्सिटी आफ इलेक्ट्रो कम्प्लेक्स होम्योपैथी कानपुर, नेताजी सुभाष चंद्र बोस यूनिवर्सिटी अलीगढ़ और भारतीय शिक्षा परिषद फैजाबाद।

तो कुलमिलाकर सावधान रहें और इन फर्जी विश्वविद्यालयों के चक्कर में न फसें अब हम इनको फर्जी कह रहे हैं क्यों कि कहीं न कहीं UGC भी ऐसा कुछ कह रहा है। बाकी अभी मामला कोर्ट में है और फैसला आगे आएगा लेकिन ये विश्वविद्यालय फिलहाल फर्जी वाली सूची में ही शामिल हैं।

इसी तरह की चौकस अपडेट के लिए आप हमारे वेबसाइट की है ख़बर से अपडेट रहिये, हम बकैती जरूर करते हैं लेकिन आपके फायदे और काम वाली।